'Letter to your father informing him your rank in the class' in Hindi | 'Kaksha men pratham aane ki suuchna dete hue pitaji ko patra'

Friday, January 24, 2014


कक्षा में प्रथम आने की सूचना देते हुए पिताजी को पत्र

आदरणीय पिताजी,
सादर चरण स्पर्श।

यहाँ पर हम सभी लोग कुशलपूर्वक हैं। आशा करता हूँ कि आप लोग भी कुशलपूर्वक होंगे। पिताजी! नवम्बर में हमारी अर्द्धवार्षिक परीक्षाएं थीं। मैंने सभी विषयों में सर्वाधिक अंक प्राप्त किये। गणित, हिंदी, कंप्यूटर तथा विज्ञान में तो मैंने विशेष योगयता प्राप्त की थी। पिताजी मैं अपनी कक्षा में प्रथम स्थान पर रहा, जिससे मेरी प्रधानाचार्या तथा सभी अध्यापिकाओं ने मेरी बहुत प्रशंसा की। मेरे सभी सहपाठियों ने भी मुझे प्रथम आने के लिए बधाई दी। आशा है आप तथा परिवार के सभी सदस्य मेरी इस सफलता पर बहुत प्रसन्न होंगे।

अच्छा अब पत्र समाप्त करता हूँ। माताजी को चरण स्पर्श कहियेगा। 
शेष शुभ।

                                                                                                                        आपका आज्ञाकारी पुत्र
24 जनवरी, 2014    
XXX 

'Letter to your father informing him your rank in the class' in Hindi | 'Kaksha men pratham aane ki suuchna dete hue pitaji ko patra'SocialTwist Tell-a-Friend

0 comments:

Post a Comment