Short Essay on 'Nag Panchami' in Hindi | 'Nag Panchami' par Nibandh (200 Words)

Sunday, January 5, 2014

नाग पंचमी

'नाग पंचमी' हिंदुओं का एक प्रसिद्ध त्यौहार है। यह हिन्दू पंचांग के अनुसार श्रावण माह में शुक्ल पक्ष के पांचवें दिन (पंचमी) मनाया जाता है। यह पूरे भारत भर में मनाया जाता है। यह आम तौर पर आधुनिक कैलेंडर के अनुसार जुलाई या अगस्त के महीने में पड़ता है।

नाग पंचमी के त्यौहार के उत्सव के पीछे कई कहानियाँ हैं। सबसे लोकप्रिय कथा भगवान कृष्ण के बारे में है। श्रीकृष्ण बस एक युवा लड़के थे। वह अपने दोस्तों के साथ गेंद फेंकने का खेल खेल रहे थे। खेलने के दौरान, गेंद यमुना नदी में गिर गई। कृष्ण ने कालिया नाग को परास्त किया और लोगों का जीवन बचाया।

नाग पंचमी हिन्दुओं का एक त्यौहार है जिसमें नाग (कोबरा) की पूजा की जाती है। इसीलिये इस पंचमी को नागपंचमी कहा जाता है। इस दिन नाग देवता या सर्प की पूजा की जाती है और उन्हें दूध पिलाया जाता है।

इस दिन लड़कियां अपने हाथों से रंग-बिरंगी गुड़िया बनाती हैं और किसी जलाशय में गुड़ियों का विसर्जन करती हैं। लड़के इन गुड़ियों को रंग-बिरंगी छड़ियों से ख़ूब पीटते हैं। फिर बहन उन्हें भेंट अर्पित करती हैं। इसीलिए इसे 'गुड़िया' का त्यौहार भी कहा जाता है। उक्त प्रथा शहरों से धीरे-धीरे लुप्त होती जा रही है।

Short Essay on 'Nag Panchami' in Hindi | 'Nag Panchami' par Nibandh (200 Words)SocialTwist Tell-a-Friend

0 comments:

Post a Comment