Short Essay on 'Kabaddi' in Hindi | 'Kabaddi' par Nibandh (165 Words)

Wednesday, May 7, 2014

कबड्डी

'कबड्डी' एक सुन्दर, सस्ता और स्वास्थ्यप्रद खेल होता है। अन्य खेलों यथा क्रिकेट, हॉकी, फुटबॉल और वॉलीवाल आदि के लिये विशेष रूप से तैयार मैदान की आवश्यकता होती है जबकि कबड्डी के लिए किसी विशेष स्थान की जरूरत नहीं पड़ती। यह कंही भी और कभी भी खेली जा सकती है।

कबड्डी में 7-7 खिलाड़ी होते हैं। कबड्डी खेलने के स्थान के बीचोंबीच एक लाइन होती है जिसे पाला कहते हैं। खेल शुरू होने पर एक खिलाड़ी कबड्डी-कबड्डी बोलता हुआ दूसरी टीम की ओर जाता है। वह यह कोशिश करता है की बिना साँस टूटे दूसरे खिलाड़ी को छूकर वापस अपने पाले में आ जाये। यदि दूसरी टीम का खिलाड़ी उसको पकड़ लेता है और वह खिलाड़ी पाले को नहीं छू पाता तो वह खिलाड़ी आउट माना जाता है ।

भारत में कबड्डी का खेल विशेष रूप से लोकप्रिय है। ग्रामीण क्षेत्रों मेँ इसके ज्यादा चलन है। यह खेल ताकत और बुद्धिमत्ता का मिला-जुला संगम होता है। वास्तव मेँ कबड्डी सस्ता, सरल, सुरक्षित तथा स्वास्थ्यप्रद खेल है।

Short Essay on 'Kabaddi' in Hindi | 'Kabaddi' par Nibandh (165 Words)SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment